Post office monthly income scheme details in hindi

POMIS (POST OFFICE MONTHLY INCOME SCHEME)  Details In Hindi

इस योजना के द्वारा अब पाइए अपने निवेश पर गारंटीड रिटर्न वह भी कम जोखिम के साथ । अगर आप इस सरकारी योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो आप इंडिया पोस्ट की मंथली इनकम स्कीम (MIS) मैं निवेश करके इसका लाभ ले सकते हैं ।

Post office monthly income scheme details in hindi

दोस्तों जैसा कि हम सभी जानते हैं कि अपने खर्च, अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए हमें बहुत ही सही तरीके से सब चीजों को मैनेज करना पड़ता है, इसीलिए बचत करना और निवेश करना एक अच्छे जीवन के लिए बहुत ही आवश्यक हो जाता है । पर ऐसे कई लोग होते हैं जो निवेश तो करना चाहते हैं लेकिन निवेश में जुड़े जोखिमों की वजह से निवेश नहीं कर पाते और उन्हें जिसकी वजह से अपने जीवन में सारी जरूरतों को पूरा करने में और पैसा बचाने में बहुत दिक्कत होती है । अगर आप अपने निवेश पर गारंटीड रिटर्न वह भी कम जोखिम के साथ चाहते हैं तो आप इंडिया पोस्ट की मंथली इनकम स्कीम के साथ जोड़कर इस योजना का लाभ ले सकते हैं । यह एक कम जोखिम वाली निवेश योजना है, जिसमें आपको हर महीने ब्याज के तौर पर कमाई होती रहती है। इस स्कीम की सबसे खास बात यह है कि एक बार निवेश करने पर आपको नियमित तौर पर हर महीने ब्याज के तौर पर इनकम होती रहती है ।

आइए जानते हैं इस स्कीम से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी - 

इस योजना में कौन खाता खुला सकता है - 

  • इस योजना में एक वयस्क व्यक्ति खाता खुलवा सकता है।
  • अगर आपको ज्वाइंट अकाउंट खुलवाना है तो अधिकतम 3 वयस्क व्यक्ति ही खाता खुलवा सकते हैं ।
  • किसी नाबालिक के नाम पर उसके अभिभावक द्वारा इस योजना में अकाउंट खुलवाया जा सकता है।


निवेश की राशि कितनी होने चाहिए -

  • इसमें खाता खुलवाने के लिए न्यूनतम राशि 1000 Rs होनी चाहिए , जोकि आप 100 के गुणांक के रूप में निवेश कर सकते हैं ।
  • इसमें आप अधिकतम 4.50 लाख तक एक सिंगल अकाउंट में निवेश कर सकते हैं और 9 लाख एक जॉइंट अकाउंट में निवेश कर सकते हैं ।
  • अगर एक ज्वाइंट अकाउंट है तो उस जॉइंट अकाउंट में सभी ज्वाइंट होल्डर्स की निवेश की हुई धनराशि बराबर होनी चाहिए ।
  • एक व्यक्ति की कुल निवेश धनराशि 4.50 लाख से ज्यादा नहीं होनी चाहिए चाहे सिंगल अकाउंट हो या ज्वाइंट अकाउंट ।
  • अभिभावक के रूप में अवयस्क की ओर से खोले गए खाते की सीमा अलग होगी ।


ब्याज कितना मिलेगा -  

  • इस योजना के तहत आपको सालाना 6.6 फीसद की दर से ब्याज दिया जाएगा।
  • आपको ब्याज एक महीना पूरा होने के साथ ही मिलना शुरू हो जाता है।
  • आपको ब्याज खाता खुलवाने के पहला महीना पूरा होने से लेकर मेच्योरिटी तक दिया जाएगा।
  • अगर आप हर महीने वाले ब्याज को क्लेम नहीं करते हैं, तो आपको उस ब्याज की रकम पर कोई अतिरिक्त ब्याज का फायदा नहीं दिया जाएगा ।


Maturity के बारे में जानकारी - 

  • इस योजना के अनुसार आपके खाते की मेच्योरिटी डेट 5 साल की है , 5 साल के बाद आपका खाता बंद कर दिया जाएगा ।
  • अगर 5 साल से पहले किसी अकाउंट होल्डर की मृत्यु हो जाती है तो उसका खाता बंद कर दिया जा सकता है और धनराशि को उसके नॉमिनी को वापस दे दिया जाएगा, ऐसी कंडीशन में पिछले महीने तक के ब्याज का भुगतान किया जाएगा जिसमें रिफंड किया जाएगा ।

 

अगर खाते को मैच्योरिटी से पहले बंद किया जाए तो - 

  • जिस तारीख को अपने धनराशि जमा की है उसके 1 साल पूरे होने के बाद ही धनराशि निकाली जा सकती है।
  •  यदि खाता खोलने की तिथि से 1 वर्ष के बाद और 3 वर्ष के पहले खाता बंद किया जाता है तो मूलधन से 2% के बराबर कटौती की जाएगी और शेष राशि का भुगतान किया जाएगा।
  • अगर खाता खोलने की तारीख से 3 साल बाद और 5 साल से पहले खाता बंद हो जाता है तो मूलधन से 1% के बराबर कटौती की जाएगी और शेष धनराशि का भुगतान किया जाएगा।


अगर आप इसके बारे में संपूर्ण जानकारी चाहते हैं तो आप इंडिया पोस्ट की ऑफिशल वेबसाइट  indiapost.gov.in पर जाकर अतिरिक्त जानकारी हासिल कर सकते हैं और इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

See Our Latest Web Story








Post a Comment

Previous Post Next Post